Editorial

16 Nov, 2017
By Sameer Tiwari
Good performance in agriculture is important ...

कृषि में उम्दा प्रदर्शन जरूरी... - डॉ. सुबोध कुमार

बिहार में कृषि के लिए प्रथम खाका 2008 में घोषित किया गया था ताकि सामाजिक न्याय और उच्च आर्थिक वृद्धि के दो लक्ष्य हासिल किए जा सकें.

READ MORE
11 Nov, 2017
By Sameer Tiwari
Cash-based farming has broken the banknotes ...

नोटबंदी से नकदी पर आधारित खेती की कमर टूटी है...

गुजरे साल 8 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 1,000 रुपए और 500 रुपए के नोट बंद करने का ऐलान कर दिया था. इस फैसले से देश की 86 फीसदी करेंसी अचानक से सिस्टम से बाहर हो गई. इस कदम का मकसद अर्थव्यस्था में मौजूद कालेधन का पता लगाना और इसे खत्म करना था. इस…

READ MORE
08 Nov, 2017
By Sameer Tiwari
Do not burn crop residues using them

फसल अवशेषों को जलाए नहीं उन्हें उपयोग में लाएं - एम.सी. डोमिनिक

किसान अपने खेत में फसल उगाने में कड़ी मेहनत करता है लेकिन जब किसान को किसी समस्या का सामना करना पड़ता है तो उस समय किसानों को बड़ी परेशानी होती है. इस समय एक ऐसी ही समस्या सामने आई है जिससे किसान के साथ आम आदमी भी परेशान नजर आ रहा है. लेकिन आम आदमी से कहीं ज…

READ MORE
01 Nov, 2017
By Sameer Tiwari
Do you know ? The importance of seeds ...

क्या आप जानते हैं ? बीज का महत्व...

भारतवर्ष कृषि प्रधान देश है, जिसकी अर्थव्यवस्था में कृषि रीढ़ की हड्डी के समान है । हमारे देश प्रदेश में हमारी आजीविका का प्रमुख साधन कृषि है । हमेशा से और आज भी कृषि उत्पादन में बीजों की भूमिका अत्याधिक महत्वपूर्ण रही है। बीज खेती की नींव का आधार और मूलम…

READ MORE
01 Nov, 2017
By Sameer Tiwari
To carry agriculture in the right direction, the government should immediately do this five work

कृषि को सही दिशा देने के लिए सरकार को करने चाहिए ये काम - अंकुर अग्रवाल

वित्त मंत्री अरुण जेटली इस साल संसद में कह चुके हैं कि नरेंद्र मोदी सरकार खेती के लक्ष्य को देश में खाद्यान्न सुरक्षा से किसानों की आय सुरक्षा की ओर ले जाने के लिए प्रतिबद्ध है. बेशक यह काफी प्रशंसनीय लक्ष्य है लेकिन इस राह में अभी कई अड़चनें हैं जिनसे पा…

READ MORE
30 Oct, 2017
By Sameer Tiwari
The waste machine should also be stopped ...

बर्बादी की मशीन पर भी रोक लगनी चाहिए... - बृजेश शुक्ल

एक मशीन है जो फसलों की कटाई करती है। यह धरती, हवा, खेतिहर मजदूरों सभी को बर्बाद कर रही है। पशुओं के मुंह से निवाला छीन रही है। खेतों की उर्वरा शक्ति नाश कर रही है। गांव वाले इसे कम्बाइन कहते हैं। धान की फसल तैयार हो चुकी है और मशीन भी एक बार फिर बर्बादी क…

READ MORE
24 Oct, 2017
By Sameer Tiwari
Do you know about these measures used in farming?

क्या आपको पता है खेती में प्रयोग होने वाले इन मापों के बारे में..? - कृषि जागरण

भारत के अधिकांश भागो में खेतों के नाप के लिए गज, हाथ, गट्ठा, जरीब, बिस्साक, बिस्वॉानसी, उनवांनसी, कचवानसी, बीधा, किल्ला , एकड, हेक्टे अर, मरला, कनाल आदि मात्रकों का प्रयोग होता हैं। देखें उनसे सम्बतधित जानकारी

READ MORE
21 Oct, 2017
By Sameer Tiwari
The cities will feed themselves for food

शहरों को उपजाना होगा खुद के लिए अन्न - प्रणय विक्रम सिंह

शहरों या शहर से सटे इलाकों में कृषि उत्पादों के उत्पादन को किसानों की भाषा में पेरी-अर्बन (शहर से सटे इलाकों) कृषि कहा जाता है और मौजूदा वक्त में दुनिया भर में इसकी लोकप्रियता काफी तेजी से बढ़ रही है। खाद्य मुद्रास्फीति में तेजी के लिए पौष्टिक और प्रोटीन…

READ MORE
17 Oct, 2017
By Sameer Tiwari
Maybe..! The culture of the village is dying

शायद..! मर रही है गांव की संस्कृति - विवेकानंद वी 'विमर्या'

गांधी जी ने कहा था कि भारत की आत्मा गांवों में निवास करती है, लेकिन आज इस बदलाव के दौर में यह परिभाषा बदलती जा रही है। गांव के लोग अब शहर की ओर कदम बढ़ा रहे हैं और शहर की संस्कृति गांवों में अपने पैर पसार रही है। गांव तो जिंदा हैं मगर गांव की संस्कृति मर …

READ MORE
11 Oct, 2017
By Sameer Tiwari
Approach: policies of agricultural development and its drawbacks

नजरिया : कृषि विकास की रणनीतियां और उनकी कमियां - रवीन्द्र नाथ चौबे

किसान एवं ग्रामीण जनता का विकास देश की आर्थिक योजना तथा विकास प्रक्रिया का प्राथमिक विषय है केन्द्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा किसानों की जरूरतों को पूरा करने के लिए ग्रामीण एक कृषि विकास रणनीतियों का नया रूप दिया जा रहा है। किसान व ग्रामीण विकास नीति मे…

READ MORE