Search results:


सीखने की अगर है ललक तो सृष्टि के कण - कण में गुरु का वास है

ह्यूमन साइकोलॉजी कहती है कि जन्म के पहले दिन से ही हम सीखना प्रारंभ कर देते हैं और मृत्यु होने तक कुछ न कुछ सीखते ही रहते हैं. वास्तव में देखा जाए तो…