Search results:


इश्क है तो इज़हार कर !

गर किसी को चाहता है दिल वक्त-बेवक्त का न इंतज़ार कर किनारे खड़ी ये कश्ती दूर निकल जाएगी गर इश्क है तो इज़हार कर राह में जितनी तकलीफें आएं सबको…