दाल आयात पर सख्त सरकार

सरकार ने दाल के आयात पर सख्ती दिखाई है। इस बीच घरेलू बाजार में दाल की कीमतें में गिरावट न होने के मद्देनज़र आयात पर कड़ा रुख अख्तियार किया है। इस बीच उद्दोग मंत्रालय के विदेश व्यापार महानिदेशालय द्वारा केवल मिलर्स के लिए एक कोटा निर्धारित किया गया है, जिसके तहत दाल मिलर्स और रिफाइनर्स को तुअर,मूंग और उड़द दाल के लिए आयात को सीमित रखा गया है। इस दौरान सरकार का उद्देश्य है कि आयात किया गया बाहर से मंगवाया गया खड़ा दलहन बाजार में न जाए बल्कि दाल मिल दाल बनाने के बाद विक्रय किया जा सके।

ऑल इंडिया दाल मिल एसोसिएशन ने लगातार एक साल इसके लिए प्रयास किया। जिसके बाद इसे सिर्फ मिलर्स तक सीमित रखा गया है। एसोसिएशन के अध्यक्ष सुरेश अग्रवाल ने कहा कि यह सरकार द्वारा उठाया गया एक सराहनीय कदम है। इस बीच आयात के लिए डेढ़ लाख मीट्रिक टन मूंग, डेढ़ लाख टन उड़द व दो लाख टन तुअर आयात करने की शर्त रखी है।

सरकार द्वारा मिलों एवं रिफाइनर्स के सामने शर्त रखी है कि वह 31, अगस्त 2018 तक आयात की प्रक्रिया पूरी कर लेंगे। जिन उद्दमियों के पास मिल व रिफाइनिंग सुविधा उपलब्ध नहीं वह आयात नहीं कर सकेंगे।

Comments