किसानों को फसल जानकरी समेत पशुओं का इलाज कर रहे विश्वविद्यालय के वैज्ञानिक

PantNagar

पंतनगर विश्वविद्यालय के कृषि महाविद्यालय द्वारा समन्वित नवीन कृषकोपयोगी प्रसार कार्यक्रम ’कृषक-वैज्ञानिक संवाद-सह-पशु कल्याण शिविर’ का दूसरा आयोजन ग्राम शान्तिपुरी नं. 1, ब्लॉक रूद्रपुर, जनपद ऊधम सिंह नगर, में किसान सहकारी साधन समिति के प्रांगण में किया गया। इस दौरान वैज्ञानिकों ने किसानों से सीधे-सीधे वार्ता की एवं उनकी समस्याओं का निवारण किया। वैज्ञानिकों ने किसानों को फसल की जानकारी भी दी एवं पशुओं की स्वास्थ्य के प्रति सचेत करते हुए पशुओं का इलाज किया।

इस आयोजन में कृषि महाविद्यालय के सस्य वैज्ञानिक, डा. के.एस. शेखर, कीट वैज्ञानिक, डा. रवि मोहन श्रीवास्तव, पादप रोग वैज्ञानिक, डा. आर.पी. सिंह, सब्जी वैज्ञानिक, डा. एम.एल. कुशवाहा, तथा बायो एजेन्ट प्रयोगशाला में सहायक, बी.सी. कबड़वाल, पशुचिकित्सा वैज्ञानिक, डा. ए.के. उपाध्याय एवं डा. अवधेश कुमार तथा दो शोध छात्र किनजेंग चुड़प और प्रवीण कुमार तथा प्रसार शिक्षा निदेशालय के कृषि विज्ञान केन्द्र के यूनिट प्रभारी, डा. बी.एस. कार्की ने भाग लिया।

गोष्ठी में किसानों के सभी समस्याओं का निदान किया गया तथा पशुओं का इलाज किया गया  साथ ही पशुपालन हेतु दवाईयों का निःशुल्क वितरण किया गया। गोष्ठी की अध्यक्षता ग्राम प्रधान, गीता थापा ने की। इस गोष्ठी में ग्राम शान्तिपुरी नं. 1, जवाहर नगर, शान्तिपुरी नं. 2 एवं 3 के 100 से अधिक किसानों ने भाग लिया।

प्रत्येक वैज्ञानिकों ने अपना मोबाइल नं. भी किसानों को दिया तथा किसानों को भविष्य में समस्या समाधान हेतु सम्पर्क करने का अनुरोध किया ताकि प्रधानमंत्री की योजना के अनुसार वर्ष 2022 तक किसानों की आमदनी को दोगुना किया जा सके। इस अवसर पर कृषक-वैज्ञानिक संवाद पुस्तिका का वितरण किया गया जिसमें सभी फसलों की जानकारी दी गई है।

किसान भाइयों आप कृषि सबंधी जानकारी अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकतें हैं. कृषि जागरण का मोबाइल एप्प डाउनलोड करें और पाएं कृषि जागरण पत्रिका की सदस्यता बिलकुल मुफ्त...

https://goo.gl/hetcnu

Comments