भारत में काले टमाटर की खेती की शुरुआत, आप भी करिए और मुनाफा पाइए...

क्‍या आपने काले टमाटर के बारे में कभी सुना है। अपने आप में ही एक्‍सक्‍लूसि‍व लुक रखने वाला यह टमाटर अपने काले रंग की वजह से बदनाम नहीं, बल्‍कि‍ लोग इसे हाथों हाथ लेते हैं। अंग्रेजी में इसे इंडि‍गो रोज़ टोमेटो कहा जाता है। इसकी सबसे बड़ी खासि‍यत यह है कि इसे कैंसर के इलाज में भी प्रयोग कि‍या जाता है। इसके अलावा भी यह टमाटर कई बीमारि‍यों से लड़ने में कारगर है।

अंग्रेजी में इंडि‍गो रोज़ टोमेटो  कहे जाने वाले ब्लेक टोमेटो उर्फ़ काले टमाटर की खेती अब भारत में भी होने जा रही है,दरअसल, काले टमाटर या इंडिगो रोज़ रेड की पहली नर्सरी यूरोप में तैयार की गई थी। इंडिगो रोज रेड और बैंगनी टमाटर के बीजों को आपस में मिलाकर एक नया बीज तैयार किया गया, जिसमें हाइब्रिड टमाटर पैदा हुआ। इसके बीज ऑनलाइन खरीददारी करके मंगाए जा सकते हैं। बीज के एक पैकेट की कीमत 110 रुपए है, जिसमें 130 बीज होते हैं। हिमांचल प्रदेश के सोलन जिले के ठाकुर अर्जुन चौधरी बीज विक्रेता हैं। अर्जुन चौधरी के पास काले टमाटर के बीज उपलब्ध हैं।

इसके बीज ऑनलाइन भी मौजूद हैं और भारत में बागवानी के कई शौकीनों ने इस काले टमाटर को अपने घर की बगि‍या में जगह दी है। इसकी खेती भी लाल टमाटर की तरह ही होती है। इसके लिए कुछ अलग से करने की जरूरत नहीं होगी। अभी तक भारत में काले टमाटर की खेती नहीं की जाती है, इस वर्ष पहली बार इसकी खेती की जाएगी। किसानों के अनुसार, इस किस्म के टमाटर की पौध ठंडे स्थानों पर विकसित नहीं हो पाती। इसके लिए गर्म क्षेत्र की उपयुक्त होते हैं। इन पौधों में लाल रंग के टमाटरों के मुकाबले काफी देर बाद पैदावार होना शुरू होती है।

सर्दियों के जनवरी माह में पौध की बुवाई की जाती है और गर्मियों यानी मार्च- अप्रैल के माह में किसान को काले टमाटर मिलने लगते हैं। किसानो के मुताबिक़ ”इसकी खास बात यह है कि इसकों शुगर और दिल के मरीज भी खा सकते हैं।” यह बाहर से काला और अंदर से लाल होता है। इसको कच्‍चा खाने में न ज्यादा खट्टा है न ज्यादा मीठा, इसका स्वाद नमकीन जैसा है।

आपको बता दें ऐसा पहली हुआ है कि कोई टमाटर स्किन के लिए अच्छा माना जा रहा है। वैज्ञानि‍क अध्ययन में पाया गया है कि यह कई बीमारियों से लड़ने में कारगर साबित है, जैसे- कैंसर, मधुमेह, कोलेस्ट्रॉल आदि। साथ ही यह आंखों की रोशनी बढ़ाने में भी काफी अच्छा है। जिगर की रक्षा, रक्तचाप के स्तर को कम करने में भी इस काले टमाटर का विशेष योगदान है।

Comments