वजन घटाए, दिल मजबूत बनाए - कच्चे मटर खाने के फायदे

ठंड के मौसम में मटर खाना पसंद है तो अच्‍छी बात है। वैसे ये फायदे जानकर तो मटर को नापसंद करने वाले भी इसे खाने लगेंगे...

किसी को सब्‍जी तो किसी को पुलाव- अलग अलग अंदाज में मटर सभी की पसंद होते हैं। वैसे कम ही लोग जानते हैं की मटर खाने के तमाम फायदे भी हैं। 

कच्‍चे मटर तो खासतौर पर फायदा करते हैं। इनमें मौजूद न्‍यूट्र‍िएंट्स वजन कम करने के साथ ही दिल को भी सुचारु रूप से काम करने में मदद करते हैं।

यहां जानें हरी मटर खाने के और बेनिफिट्स

- हरी मटर में विटामिन के भरपूर मात्रा में होता है जिससे हड्डियां मजबूत होती है। यह ऑस्टियोपोरोसिस के खिलाफ प्रभावी ढंग से काम करती है। कुल मिलाकर हरी मटर, पावर पैक का काम करती है। 

- मटर में मौजूद गुण वजन को नियंत्रित करते हैं। मटर में लो कैलोरी और लो फैट होता है। हरी मटर में हाई फाइबर होता है जो वजन को बढ़ने से रोकता है। यदि वजन कम करना चाहते हैं तो अपने भोजन में हरी मटर का इस्तेमाल अधिक से अधिक करें।

- मटर शरीर में मौजूद आयरन, जिंक, मैगनीज और तांबा शरीर को बीमारियों से बचाता है। मटर में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं ताकि शरीर बीमारियों से मुक्त रह सके।

- ताजा हरे मटर के दानों को पीसकर जले हुए स्थान पर लगाने से जलन बंद हो जाती है।

- हरी मटर में ऐसे स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक गुण होते है जो शरीर में कोलेस्‍ट्रॉल बढ़ने नहीं देते। हरी मटर में शरीर से ट्राइग्लिसराइड्स के स्‍तर को कम करने का गुण होता है और इसके सेवन से ब्‍लड़ में कोलेस्‍ट्रॉल संतुलित होता है। शरीर से कई बीमारियां भी इसके खाने से कम होती है।

- पेट के कैंसर में हरी मटर एक कारगर औषिधि है। एक अध्धयन में पता चला है कि मटर में मौजूद काउमेस्ट्रोल जो कैंसर से लड़ने में मददगार होता है। साथ ही हरी मटर का प्रतिदिन सेवन करने से पेट के कैंसर का खतरा कम हो सकता है।

- हरी मटर में एंटी-ऑक्सीडेंट, फ्लैवानॉइड्स, फाइटोन्यूटिंस, कैरोटिन पाए जाते हैं जो शरीर को यंग और एनर्जी से भरपूर रखते हैं।

- मटर में मौजूद फोलिक एसिड पेट की समस्‍याओं को दूर रखने के साथ ही गर्भवती महिला को पर्याप्त पोषण देता है। गर्भवती महिलाओं को अपने खाने में हरी मटर को जरूर शामिल करना चाहिए।

- हरी मटर के स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक गुणों में एक गुण यह भी है कि इसके सेवन से हार्ट की बीमरियां कम होती है। इसमें एंटी - इनफ्लैमेट्टरी कम्‍पाउंड होते है और एंटी - ऑक्‍सीडेंट भी भरपूर मात्रा में होता है। इन दोनों ही कम्‍पाउंड के कॉम्‍बीनेशन से दिल की बीमारियां होने का खतरा कम हो जाता है।

- हरी मटर में प्रोटीन के तत्व और उच्च फाइबर पाया जाता है जो शरीर में मौजूद शुगर की मात्रा को कंट्रोल करता है। साथ ही डायबिटीज के खतरों से भी बचाता है।

- कुछ दिनों तक चेहरे पर मटर के आटे का उबटन मलते रहने से झांई और धब्बे समाप्त हो जाते हैं।

 

साभार

टाइम्स नाउ

 

Comments