किसानों की दोस्त मोडेस्टो - टेकराम

 

मोडेस्टो क्रॉप प्रोटेक्शन कंपनी का नाम किसानों के बीच जाना-पहचाना नाम है। कंपनी ऐसे प्रोडक्ट बनाने में विश्वास करती है जो खेत की विभिन्न प्रकार की बीमारियों को एक साथ और तुरंत नष्ट कर सकें। कंपनी के पास पौध सुरक्षा से लेकर प्लांट ग्रोथ रेगुलेटर आदि प्रोडक्ट्स हैं । कंपनी के बारे में विस्तृत रूप से बताने के लिए जोनल मैनेजर नॉर्थ इंडिया टेकराम ने कृषि जागरण टीम से बात की।

1. कंपनी के पास पौध सुरक्षा के लिए कौन-कौन से विभिन्न उत्पाद हैं?

कंपनी के पास पौध सुरक्षा के लिए विभिन्न उत्पाद हैं जैसे- मोडेस्टो जिंक 33%, मोडेस्टो जिंक 21%, मोडेस्टो एनपीके 19:19:19 । कंपनी कई तरह के प्रोडक्ट्स पर फोकस कर रही है जैसे दीमक व कीड़ों के लिए टरमाइट 505, अटैक आदि। हमारे पास फंफूदीनाशक संबंधी कई प्रोडक्ट्स हैं- किक, ट्रस्ट, स्ट्राॅन्ग, मोटो आदि कंपनी के जाने-माने प्रोडक्ट्स हैं। हमारे पास प्लांट ग्रोथ प्रमोटर की भी अच्छी रेंज है मोटोज और ग्रोविटा गोल्ड किसानों के पसंदीदा प्रोडक्ट्स में से एक है।

2. आप किस तरह के प्रोडक्ट्स पर ज्यादा फोकस कर रहे हैं?

कंपनी किसानों के लिए ऐसे उत्पाद पर फोकस कर रही है जो आज के समय में किसान की फसल में अनेक प्रकार की बीमारियों और कीटों की रोकथाम के लिए उपलब्ध हों। ऐसे प्रोडक्ट्स जो कम मात्रा में विभिन्न प्रकार की बीमारियों पर एक साथ और तुरंत असर कर सकें उन की किसानों को जरूरत है। ऐसे प्रोडक्ट का इस्तेमाल कर किसानों को कई दवाइयों का इस्तेमाल नहीं करना पड़ेगा।

3. आपके प्रोडक्ट्स अन्य कंपनियों के मुकाबले कितने बेहतर व अलग हैं?

बाजार में बहुत तरह की कंपनियां सक्रिय हैं। जिनके पास विभिन्न तरह के प्रोडक्ट्स हैं। कंपनी के पास अपने बनाए हुए टेक्निकल और इमलसीफायर हैं। कंपनी ने दूसरी कंपनियों से हटकर कुछ नए उत्पाद बाजार में उतारे हैं जो दूसरी कंपनियों से कम रेट होने के साथ ही कम मात्रा में भी ड़ाले जाते हैं। यह सभी प्रोडक्ट अच्छी गुणवत्ता के साथ बाजार में उपलब्ध हैं। 

4. आप सीएसआर एक्विटी के तहत क्या-क्या कर रहे हैं?

कंपनी विभिन्न तरह की सीएसआर एक्टिविटी में समय-समय पर भाग लेती रहती है। कंपनी काफी समय से पहले ही इसमें योगदान देती आई है। कंपनी हर साल ब्लड डोनेशन कैंप भी लगाती है। कंपनी ने इसी महीने ब्लड डोनेशन कैंप लगाया था। जिसमें 168 यूनिट ब्लड डोनेट किया गया। इसके अलावा भी कंपनी समय-समय पर गरीब बच्चों को स्कूलों में कॉपी, किताब, बैग और स्कूल ड्रैस भी प्रदान करती है।

5. कंपनी किसी तरह का ट्रेनिंग प्रोग्राम आयोजित करती है हैं

कंपनी जब भी मार्केट में नया प्रोडक्ट लेकर आती है तब कंपनी पहले अपने मार्केटिंग स्टाफ को ट्रेनिंग देती है और उसके बाद डिस्ट्रीब्यूटर डीलर के लिए भी ट्रेनिंग प्रोग्राम आयोजित करवाती है। टेकराम जी ने कहा कंपनी इस बात को सुनिश्चित करती है कि किसानों को सही और सटीक जानकारी मिल सके।

6. इस समय मार्केट में आप के कौन से प्रोडक्ट की मांग ज्यादा है?

यूं तो कंपनी के प्रोडक्ट्स की मांग मार्केट में साल भर रहती है लेकिन इस समय मार्केट में कंपनी द्वारा नए लॉन्च किए गए प्रोडक्ट्स की मांग ज्यादा है जैसे-अलीसन, टाईसन, माईसन और प्रोजोल जैसे प्रोडक्ट्स मार्केट में छाए हुए हैं।

7. क्या कंपनी के पास जैविक उत्पाद भी हैं?

कंपनी के पास जैविक उत्पाद भी हैं। मोटोज और ग्रोविटा गोल्ड जैविक श्रेणी में उपलब्ध हैं।

8. मार्केट में आपकी प्रतिद्वंद्वी कंपनियां कौन सी हैं?

कंपनी की मार्केट में किसी तरह की कोई प्रतियोगी कंपनी है ही नहीं क्योंकि कंपनी के पास दूसरी कंपनी के अपेक्षा अलग तरह के उत्पाद हैं जिनके आसपास दूसरी कंपनियां कहीं नजर नहीं आती हैं।

9. कंपनी को किस तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है मार्केट में?

कंपनी को किसी भी प्रकार की समस्याओ का सामना नहीं करना पड़ता है बल्कि कंपनी के डीलर कंपनी द्वारा दी गई दवाइयों और सप्लाई की तारीफ करते हैं और हमारी डेवलपमेंट टीम समय- समय पर किसान गोष्ठी का आयोजन करती है तो वहां पर किसान कंपनी के प्रोडक्ट्स की सराहना करते हैं। 

10. आप किसानों तक अपने प्रोडक्ट्स ले जाने के लिए क्या-क्या स्ट्रेटजी अपना रहे हैं?

उन्होंने कहा कंपनी के पास एक डेवलेपमेंट टीम है जो हमेशा किसानों के बीच जाकर समय-समय पर उनकी फसल का निरीक्षण करती रहती है। वे उनकी जरूरत के अनुसार किसानों को सही उत्पाद उपलब्ध करवाते हैं। यही नहीं कंपनी उत्पाद के प्रयोग के तरीकों के बारे में भी सलाह देती रहती है। समय-समय पर कंपनी द्वारा फील्ड रिप्रेजेंटेटिव गांव में जाकर किसानों के बीच उन्हें उत्पादों के सही इस्तेमाल और इनके सकारात्मक परिणामों से अवगत कराती है। विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से भी हम अपने उत्पादों की जानकारी किसानों को उपलब्ध करवाते हैं। 

- दीपशिखा सिंह 

 

Comments