कृषि जागरण टीम पहुंची नोबेल सीड्स के ऑफिस...

आधुनिक युग में मनुष्य को स्वस्थ रहने के लिए हरी साग सब्जियों का सेवन करना आवश्यक हो गया है. भारत में ही नहीं वरन समूचे विश्व में सब्जियों की खपत तेजी से होती है. वर्तमान में लोग अपने घरों में सब्जियां उगाते हैं, जिससे उन्हें जैविक सब्जी प्राप्त हो सके.

नोबेल सीड्स प्राइवेट लिमिटेड इसी क्षेत्र में सन 2004 से काम कर रही है. कृषि जागरण के संपादक एम सी डोमिनिक तथा संपादकीय विभाग ने नोबेल सीड्स के डायरेक्टर (इंटरनेशनल बिज़नेस) परमजीत सिंह और मैनेजिंग डायरेक्टर लक्ष्मी एम एन से बातचीत के दौरान नोबेल सीड्स द्वारा हाल ही में किसानो के लिए विकसित किए गए बीजों के बारें में जानने की कोशिश की.

आपको बता दें नोबेल सीड्स विभिन्न प्रकार की सब्जियों  के बीज किसानों को मुहैया कराती है. परमजीत ने बताया कम्पनी की गतिविधियों के बारे में बताया तो वहीँ कम्पनी के मैनेजिंग डायरेक्टर लक्ष्मी एम एन ने कम्पनी के उतार चढ़ाव तथा किसानों के बीच लोकप्रिय होने के कारणों के बारे में विस्तार से बताया.

नोबेल सीड्स ने इस बार किसानों को हाइब्रिड फूलगोभी NBH - HAPPY का बीज बाजार में उपलब्ध कराया है, जो 60 से 70 दिन में तैयार होती है.

आने वाले 5 साल में कम्पनी भारत की नंबर 1 कम्पनी बनने की योजना पर कार्य कर रही है. कम्पनी किसानों की मांग के बाद ही बीज तैयार करती है, तथा तैयार बीजों की गुणवत्ता जांच लेने के बाद ही उन्हें किसानों तक पहुँचाया जाता है.

- प्रियंका वर्मा 

Comments