पीएसयू बीमा कंपनियों का होगा विलय

देश में निजी एवं सार्वजनिक क्षेत्र की कई बीमा कंपनी हैं जो इस समय अच्छे स्तर पर काम कर रही हैं. सार्वजानिक क्षेत्र की जानी-मानी तीनो बीमा कंपनियों का विलय करने की तैयारी में है, इससे इनकी सुविधाओं को और बेहतर बनाया जा सकेगा. इन बीमा कंपनियों -नैशनल इंश्योरेंस कंपनी (एनआईसी), यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस और ओरिएंटल इंश्योरेंस कंपनी का विलय अगले वित्त वर्ष से पहले पूरा हो जाने का अनुमान है.

इन तीनो बीमा कंपनियों के आला अधिकारी इसी महीने की 16 तारीख को को सरकार के साथ इस संबंध में पहली बैठक करेंगे. यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक एम एन शर्मा ने का कहना है कि, 'बजटीय घोषणाओं पर चर्चा के लिए 16 फरवरी को विभागीय बैठक होगी.अपने बजट भाषण में केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सार्वजनिक क्षेत्र की तीन इकाइयों को एक कंपनी में मिलाए जाने के प्रस्ताव की घोषणा की थी. संसद में बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री ने कहा था कि यह संयुक्त कंपनी बाद में सूचीबद्ध कराई जाएगी.

एम.एन. शर्मा ने कहा कि इस विलय से कार्यालयों को तर्कसंगत बनाए जाने को बढ़ावा मिलेगा, लेकिन यह कार्य नौकरियों की छंटनी के बगैर ही पूरा किया जाएगा. शुरू में नैशनल इंश्योरेंस के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक के सनत कुमार ने भी कहा था कि विलय अगले वित्त वर्ष के अंत तक किया जा सकता है. हालांकि इन तीनो कंपनियों के एक में विलय होने से इसका दायरा और बढ़ जायेगा.           

 

Comments



Jobs