सोयाबीन बीज की उपार्जन दर 4000 रूपये प्रति क्विंटल तय

म.प्र. शासन कृषि विभाग ने कृषक हित में निर्णय लेते हुए खरीफ 2018 में किसानों को दिए जाने वाले सोयाबीन के प्रमाणित बीजों की उपार्जन दर 4 हजार रू. क्विंटल निर्धारित की है। यह निर्णय कृषि उत्पादन आयुक्त की अध्यक्षता में बीज दर निर्धारण समिति की बैठक में लिया गया।

सूत्रों के मुताबिक सामान्यत: खरीफ फसलों की प्रमाणित बीज दरों का निर्धारण मई माह में किया जाता है परन्तु इस वर्ष भावान्तर भुगतान योजना के चलते वर्ष 2017 में बीज उत्पादन कार्यक्रम लेने वाले किसान असमंजस की स्थिति में थे कि सोयाबीन बीज की उपार्जन दर क्या होगी?

ज्ञातव्य है कि भावान्तर में सोयाबीन का मॉडल रेट 2580 से 2830 रू. प्रति क्विंटल तक तय किया गया है जबकि समर्थन मूल्य 3050 रू. प्रति क्विंटल तय है। इसी के मद्देनजर भावान्तर में किसानों को तीन चरणों में सोयाबीन के अंतर की राशि क्रमश: 470, 410 एवं 220 रू. प्रति क्विंटल दी गई है।

इस कारण किसानों को भ्रम की स्थिति से बचाने के लिए समय से पूर्व ही खरीफ 2017 में उत्पादित किए गए सोयाबीन बीज की उपार्जन दर किसानों के लिए 4000 रू. क्विंटल तय कर दी गई है जिसका उपार्जन बीज निगम, बीज संघ एवं अन्य सरकारी संस्थाएं करती हैं। खरीफ 2018 में कृषकों को यह बीज वितरित किया जाएगा।

साभारः कृषक जगत

किसान भाइयों आप कृषि सबंधी जानकारी अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकतें हैं. कृषि जागरण का मोबाइल एप्प डाउनलोड करें और पाएं कृषि जागरण पत्रिका की सदस्यता बिलकुल मुफ्त...

https://goo.gl/hetcnu

Comments